अभी-अभी : अमेरिका में महाविनाश की शुरुआत, मची अफरा-तफरी, हजारों लोग घायल-बिजली-पानी बंद

अमेरिका के अलबामा प्रांत में टॉरनेडो (बवंडर) से 22 लोगों की मौ’त हो गई। ली काउंटी के शेरिफ जे जोंस ने मौ’तों की पुष्टि की है। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कई लोग लापता हैं। तूफान में हवाएं 266 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलीं। इससे बिजली और पानी के बिना पांच हजार से अदिक लोग रह रहे हैं।

तूफान के सबसे ज्यादा असर ली काउंटी पर ही पड़ा। यहां के शेरिफ जे जोंस के मुताबिक- तूफान ने कई घरों को नुकसान पहुंचाया। तूफान की चौड़ाई 500 मीटर थी और जमीन पर यह कई किमी तक फैल गया। तूफान के चलते कई पेड़ उखड़ गए और मलबा सड़कों पर आ गया। मृतकों की संख्या में इजाफा हो सकता है।

बर्मिंघम स्थित नेशनल वेदर सर्विस (एनडब्ल्यूएस) ने ली काउंटी समेत कई इलाकों में चेतावनी जारी की है। अलबामा और जॉर्जिया में रविवार को कई बवंडर जमीन से टकराए थे। लोगों को घर से न निकलने और बिल्डिंग के निचले हिस्से में रहने को कहा गया है। ली काउंटी से जो पहला तूफान टकराया, उसकी गति ईएफ-3 थी और वह 500 मीटर चौड़ा था। ईएफ स्केल से हवाओं की स्पीड आंकी जाती है। ईएफ-3 में हवा की स्पीड 218 से 266 किमी प्रति घंटे होती है।

गवर्नर ने बवंडर के चलते मारे गए लोगों को परिवारों के प्रति संवेदनाएं प्रकट की है। अलबामा के सेल्मा में कई लोग इकट्ठे हुए थे। ये सभी 1965 के सिविल राइट्स मार्च की घटना की याद में एक कार्यक्रम कर रहे थे। तूफान के चलते कई लोग घायल हो गए। वहीं जॉर्जिया के टालबोटन इलाके में तूफान के चलते एक अपार्टमेंट समेत 15 इमारतें ध्वस्त हो गईं। इसमें 6 लोग जख्मी हो गए।

SHARE