क’श्मीर पर फिर बोले मन’मोहन सिंह, पढ़े लिखे इंसा’न और समझ’दारी वाली बात कही है

कश्मी’र को लेकर तरह तरह की खबर आ रही है. एक तरफ जहाँ सर कार की तरफ से लगातार कहा जा रहा है कि उस फैसले के बाद से ही वहां पर हालत काबू में है और इसके लिए कई तरह के वीडियो भी सामने आ रहे हैं. हालाँकि सर कार एकदम शांति की बात कर रही है, वहीँ दूसरी तरफ इंटर नेशनल मीडिया का कहना है कि इस फैसले के बाद वहां पर कई जगह प्रो टेस्ट हुआ है और लोगों ने इस फैसले पर असहमति भी जताई है.

image source: google

बहरहाल, आपको बता दें कि बीते पांच दिनों से क श्मीर एकदम अलग थलग और क’टा हुआ पड़ा हुआ है. क्योंकि वहां पर सूचना और संचार के सारे साधन बंद हैं. फोन से लेकर लैंड लाइन और नेट तक कुछ भी काम नहीं कर रहा है. बड़ी बात यह है कि देश और दुनिया के अलग अलग हिस्सों में रहने वाले लोग अपने परिवार वालो तक से बात नहीं कर पा रहे है. राजधानी दिल्ली में रह रहे क’श्मीरी छात्र अपने,

माँ बाप से त्यौहार के दिन भी बात नहीं कर पाए हैं. ऐसे में ज़ाहिर सी बात है कि उन्हें इसकी चिंता ज़रूर हो रही है. बहरहाल, इस बीच इस फैसले पर भारत के पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का बड़ा बयां सामने आया है और उन्होंने सर कार के इस फैसले पर सवाल उठाया है. उन्होंने कहा है कि यह फैसला ज़्यादातर लोगों की अभि लाषा के अनुसार नहीं है.

उन्होंने कहा है कि भारत के विचार को जिं’दा रखने के लिए क’श्मीर के लोगो की आवाज़ सुननी होगी और उन्हें अनसुनी नहीं किया जा सकता है. उन्होंने कहा है कि इस वक़्त देश के संकट से गुजर रहा है और इस वक़्त देश को सामान विचार वालों के सहयोग की ज़रुरत है. उन्होंने यह बात एस जयपाल रेड्डी को श्रद्धांजलि देने के बाद कही है.

SHARE