मेरठ में म स्जिद के पास ध माके के बाद मची अफरा तफरी, ध माके की वजह अब समझ में आई

भारत की राजधानी दिल्ली के साथ सटे पश्चिमी यूपी के इलाके में लोकसभा चुनाव के लिए मतदान संपूर्ण हो चुका है।  इसी कड़ी में अब उत्तर प्रदेश के मेरठ से दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। सोमवार को मेरठ के घंटा घर इलाके में स्थित अख्तर मस्जिद के पास सिलेंडर के गोदाम में आग लगने की खबर सामने आई।  खबर के मुताबिक गैस रिफिलिंग के वक्त सिलेंडर के गोदाम में 20 सिलेंडर फटने से भीषण आग लग गई देखते ही देखते वहां पर अफरा-तफरी का माहौल मच गया।  आपको बता दें कि इस दुर्घटना में किसी की भी जान के हताहत न होने की खबर सामने आई है। हालांकि गोदाम का मालिक बुरी तरह झुलस गया। जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।मेरठ के घंटा घर इलाके में स्थित अख्तर मस्जिद के पास प्रदीप की परचून की दुकान है और इसी के ऊपर सिलेंडर का गोदाम है।  गोदाम की छत पर ही गैस रिफिलिंग का काम भी किया जाता था। सोमवार को जब सिलेंडरों की रिफिलिंग की जा रही थी तो इस दौरान गोदाम में रखें 20 सिलेंडर अचानक से फट गए और इनकी वजह से वहां पर इतनी भयंकर आग लग गई। जिसके चलते लोग अफरा-तफरी में इधर-उधर भागने लगे। इस दुर्घटना की खबर जब फायर ब्रिगेड को दी गई तो दमकल टीम ने तुरंत आकर बाकी सिलेंडरों को बाहर निकाला और आग बुझाने का प्रयास किया।बताया जा रहा है कि दमकल की छह गाड़ियों ने घंटों की मशक्कत के बाद पर काबू पाया। हादसे के दौरान कॉलोनी के लोगों ने मकान खाली कर दिए। अभी भी लोग अपने घरों में वापिस आने की हिम्मत  नहीं कर पा रहे हैं। क्योंकि सिलेंडर फटने से धमाका इतना जबरदस्त था कि लोग बुरी तरह से सहमे हुए हैं और अपने घरों में वापिस लौटने की हिम्मत नहीं कर पा रहे हैं।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के मेरठ में कई स्थान ऐसे हैं। जहाँ पर गैस सिलेंडरों की अवैध रिफलिंग का काम किया जाता है। यह सब पुलिस-प्रशासन की नाक के नीचे होता है। मेरठ में इससे पहले भी अवैध रिफलिंग के कारण आग लग चुकी है। हालांकि आज हुए हादसे में किसी मानवीय क्षति की कोई जानकारी नहीं है। एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

SHARE