क’श्मीर के फैसले को पल’टने के लिए नेश’नल कां’फ्रेंस ने उठाया बड़ा कदम, पट’ल सकती है बा’ज़ी

क’श्मीर मामले में अब वहां के लोगों से लेकर वहां की प्रमुख पार्टियों की प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गयी है. बबीते कल आपने वह वीडियो देखा होगा जो बीबीसी हिन्दू ने जारी किया था और वहां के लोग सैकड़ों की तादाद में सड़क पर उतर आये थे. बहरहाल, इस मुद्दे पर अलग अलग लोग अपनी अलग अलग बात कर रहे हैं लेकिन इस बीच अब नेशनल कांफ्रेंस ने बड़ा कदम उठा दिया है. आपको बता दें कि नेशनल कांफ्रेंस,

image source: google

ने भारत सर’कार द्वारा लिए गए फैसले के खि’लाफ सु’प्रीम कोर्ट में या’चिका दा’यर की है. हालाँकि इस फैसले के बाद से ही अनुमान लगाया जा रहा था कि इसे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती मिलेगी ही मिलेगी. ऐसे में अभी कोई कुछ समझ पाता इससे पहले ही नेशनल कांफ्रेंस ने यह याचिका दायर कर दी है और इस फैसले को वापस लेने की मांग की है. पार्टी की तरफ से कहा गया है कि वह इसके खिला’फ आखिरी वक़्त,

तक कानूनी लड़ा’ई लड़ें’गे. आपको बता दें कि सर कार ने न सिर्फ धारा हटाई है बल्कि क’श्मीर को दो हिस्सों में बांटकर उसेयूनियन टेरीटरी बना दिया है. इस मामले पर अपना पक्ष रखते हुए उमरा अब्दुल्ला का कहना है कि इस फैसले से खत रनाक नतीजे देखने को मिलेंगे. उन्होंने आगे कहा है कि इससे यहाँ पर अशांति का माहौल पनपने लगेगा. परिणाम सामने आएंगे और घाटी में नागरिकों को अशांति का सामना करना पड़ेगा.

वहीँ इस याचिका में कहा गया है कि सर कार यूँ संघीय योजना को लागू कर सकती है. वहीँ इसमें संघीय ढांचे का हवाला देते हुए कहा गया है कि यह स्व-शासन का अधिकार मिलना चाहिए क्योंकि यह एक मौलिक अधिकार है. इसके अलावा कहा गया है कि इस अधिकार को बिना प्रक्रिया के हटा दिया गया है. बहरहाल अब देखते हैं कि इसकी सुनाई कब शुरू होती है कौन क्या दलील रखता है.

 

SHARE