अभी-अभी LIVE: नीरव मोदी लंदन में गिरफ्तार, चुनाव से पहले गिरफ्तारी का हुआ पर्दाफ़ाश! – देखें

लंदन में गिरफ्तार किया गया भगोड़ा कारोबारी नीरव मोदी, बैंकों का 13 हजार करोड़ रुपये लेकर फरार होने का आरोप, लंदन की सड़क पर दिखा था घूमता, खोल लिया था हीरों का शोरूम, ईडी, सीबीआई ने प्रत्यर्पण के लिए ब्रिटिश सरकार से किया अनुरोध, वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने जारी किया था गिरफ्तारी वारंट. नीरव मोदी की गिरफ्तारी पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी. मिशेल, तलवार, सक्सेना सभी भारत में लाए गए. इस तरह की कार्रवाई जारी रहेगी.

कोर्ट के अंदर सेल में नीरव मोदी को रखा गया है. अभी उन्हें कोर्ट में पेश नहीं किया गया है. नीरव मोदी की गिरफ्तारी पर गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बीजेपी ने उन्हें (नीरव मोदी) देश से भगाने में मदद की थी, अब वे उन्हें वापस ला रहे हैं. चुनाव के कारण यह फैसला लिया गया, चुनाव बाद वापस भेज दिया जाएगा.

11 कार और 173 पेंटिंग्स की होगी नीलामी

नीरव मोदी पर भारत में भी शिकंजा कसता जा रहा है. अब खबर है कि PMLA कोर्ट ने नीरव मोदी की 11 कारों और 173 पेंटिंग्स को नीलाम करने की अनुमति दे दी है. यह अनुमति प्रवर्तन निदेशालय ने मांगी थी. बता दें नीरव मोदी की पत्नी के खिलाफ कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया है.

विजय माल्या से अलग है नीरव मोदी का केस

अगर विजय माल्या के मामले की नीरव मोदी के मामले से तुलना करते हैं तो उसमें काफी अंतर है. क्योंकि, विजय माल्या पर भारत में बैंकों के लोन को डिफॉल्ट घोषित कर लंदन भाग जाने का आरोप है. जबकि नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चोकसी ने विदेश में कर्ज लेने के लिए धोखे से गारंटी पत्र (एलओयू) हासिल करके पंजाब नेशनल बैंक को करीब 13000 करोड़ रुपए का चूना लगाया.

भारत के रेड कॉर्नर नोटिस के बाद लंदन में गिरफ्तार

स्कॉटलैंड पुलिस द्वारा जारी बयान के मुताबिक भारतीय एजेंसियों की शिकायत के आधार पर 48 साल के नीरव मोदी को स्‍थानीय समयानुसार मंगलवार (19 मार्च) को गिरफ्तार किया गया. नीरव मोदी की बुधवार को ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेशी हुई. अब नीरव मोदी मामले की अगली सुनवाई 25 मार्च को होगी.

9 लाख की जैकेट में लंदन घूम रहा था नीरव मोदी

पीएनबी घोटाले के आरोपी नीरव मोदी को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया. नीरव मोदी के बारे में पहले से ऐसी बातें कही जा रही थी कि वह लंदन में हो सकता है. लेकिन आज से ठीक 12 दिन पहले ही उसे पहली बार कैमरे में कैद किया गया था. तब वह लंदन की सड़कों पर आराम से टहलता हुआ दिख रहा था.

अब भारत सरकार करेगा प्रत्यर्पण का प्रयास

नीरव मोदी की गिरफ्तारी के बाद भारत सरकार ब्रिटेन से प्रत्यर्पण का प्रयास करेगी. सूत्रों के मुताबिक अब भारत से सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय की एक टीम लंदन के लिए रवाना होगी. इस बीच नीरव मोदी मामले को लेकर CBI और ED की टीम लगातार UK अथॉरिटी और लंदन में मौजूद भारतीय हाई कमीशन के संपर्क में है.

SHARE