VIDEO : मोदी की रैली में लोग उठकर जाने लगे, पुलिस ने जबरदस्ती रोका, देखें

लोकसभा चुनाव नजदीक है. नेता लोग भरपूर प्रचार में लगे हुए हैं. दिन में पांच-पांच रैली कर दे रहे हैं. ऐसी ही एक रैली का वीडियो वायरल हो रहा है. क्यों वायरल हो रहा है? क्योंकि लोग रैली से उठकर जा रहे हैं और पुलिस उन्हें ज़बरदस्ती रोक रही है. पहले वीडियो देखते हैं, फिर आगे जानते हैं.

इस वीडियो को हजारों बार रीट्वीट औए लाइक किया गया है. इस वीडियो को साढ़े चार लाख से अधिक लोग देख चुके हैं. इसके साथ ही कई और पेज पर भी यह वीडियो शेयर किया गया है जहां इसे लाखों लोग देख चुके हैं. कई लोग सोशल मीडिया पर इस वीडियो को शेयर करते हुए लिख रहे हैं कि मोदी के भाषण से निराश होकर लोग बीच रैली में ही जाने लगे. स्थानीय मीडिया के रिपोर्ट्स मुताबिक ने लिखा है कि पुलिस ने दरवाजे को बंद कर दिया था. महिलाएं भी निकलने के लिए गेट पर चढ़ रही थीं. वीडियो देखिए.

7 अप्रैल को बीजेपी ने मणिपुर की राजधानी इंफाल में रैली का आयोजन किया था. इस रैली में पीएम को दोपहर के 2:30 बजे पहुंचना था. बीजेपी मणिपुर का ट्वीट देखिए. एक रिपोर्ट के मुताबिक 6 अप्रैल को इस इवेंट के लिए एक शेड्यूल जारी किया गया था जिसमें यह बताया गया था कि पीएम को शाम के 4:10 बजे पहुंचना था. लेकिन रैली वाले दिन लोग सुबह 10-11 बजे ही पहुंचने लगे थे. कई लोग दूर-दूर से पहुंचे थे.

पीएम के मणिपुर आने को लेकर उग्रवादी संगठन कोरकोम ने राज्य में बंद बुलाया था. यह संगठन पीएम, प्रेजिडेंट के मणिपुर आने पर राज्य बंद बुलाती रहती है. इस बंद के चक्कर में लोग सुबह-सुबह ही रैली में पहुंचने लगे. सूरज ढलने लगा तो लोग घर जाने लगे क्योंकि मणिपुर में शाम 5 बजे के बाद सूरज ढलने लगता है.

मोदी निर्धारित समय से करीब डेढ़ घंटा लेट रैली में पहुंचे. इतने में कई लोग वापस जाने लगे थे. मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरन का एक ट्वीट शाम के 4:37 बजे आया था. इसमें उन्होंने लिखा था- बड़ी संख्या में लोग पीएम मोदी का इंतज़ार कर रहे हैं. ट्वीट देखिए.

बीबीसी की रिपोर्ट मुताबिक वीडियो में थोंगम बिस्वजीत ने यह कहा कि- पीएम मोदी के पास मणिपुर और पूर्वोत्तर भारत के लिए क्या संदेश है, उसे सुनने के लिए थोड़ा तो इंतज़ार करें. लेकिन पीएम मोदी करीब डेढ़ घंटे की देरी से रैली स्थल पर पहुंचे. इतना लेट होने के कारण लोगों ने मैदान से बाहर जाना शुरू कर दिया.

वीडियो देखकर ऐसा लगता है कि कम से कम 100 लोग रहे होंगें जो रैली से बाहर जाना चाह रहे थे लेकिन पुलिस उन्हें रोक रही थी. इंफाल ईस्ट के पुलिस एसपी जोगेश चंद्रा हाउबिजन से जब इस मसले को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया. इस वीडियो को देखकर ऐसा लगता है मानो पीएम मोदी के भाषण शुरू होने के पहले ही लोग बाहर जाने लगे थे. कई दफा सुरक्षा कारणों से भी रोका जाता है जो इस मामले में अभी तक साफ नहीं है कि ऐसा कुछ था.

एग्जिट गेट को बाद में खोल दिया गया था क्योंकि गेट पर भीड़ का दबाव बढ़ता जा रहा था. ऐसे में भगदड़ की किसी भी संभावना को खत्म करने के लिए गेट खोल दिया गया था ताकि रैली से लोग बाहर जा सकें.

मणिपुर की 2 लोकसभा सीटों पर 11 और 18 अप्रैल को वोटिंग होनी है.

SHARE