बड़ी खबर : पतंजलि को लेकर रामदेव के दावों की खुली पोल ! चीनी सामान को धड़ल्ले से बेच रहा है बाबा

जिसकी हम सब जानते हैं साल 2014 में जब से बीजेपी की सरकार आई हैं. तब से योग गुरु बाबा रामदेव व्यापारी बाबा के नाम से प्रसिद्ध हो गये हैं. हो भी क्यों नाह बाबा के उपर मोदी का जो हाथ है. हालांकि बाबा पतंजलि के उत्पादों को स्वदेश होने का दावा करते हैं, लेकिन इनके अधिकतर उत्पाद गुणवत्ता परीक्षण में फेल साबित हुए हैं. इन दिनों बाबा योग को छोड़ कर भारत में व्यापार पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं. शायद यही कारण है कि बाबा अक्सर सुर्खियों में बने रहते हैं.

बाबा रामदेव की खुल गयी पोल

आपको याद दिला दें कि साल 2014 में उन्होंने बीजेपी के लिए जमकर चुनाव प्रचार किया था. इतना ही नहीं उन्होंने बीजेपी को वोट देने की भी अपील की थी. बाबा रामदेव ने अपने एक बयान में कहा था कि अगर बीजेपी की सरकार आई तो देश का कालाधन वापस आ जायेगा. लेकिन बीते 4 सालो में काले धन का पता नहीं पर रामदेव का कारोबार जरुर दिन दोगुना, रात चौगुना तरक्की किया हैं.

पतंजलि ने चीन की एक फर्म के साथ किया समझौता

आपकी जानकारी के लिए बता दे भले ही बाबा अपने प्रोडक्ट को लेकर तमाम तरह के दावे करते हैं. लेकिन सच्चाई क्या है यह बात हम सब से छुपा नहीं है. अक्सर अपने बाबा को कहते सुना होगा कि विदेश सामान को छोड़ो, देशी सामान को अपनाओ. लेकिन इन दिनों बाबा फिर से सुर्खियों में छाए हुए हैं. मामला यहाँ हैं की योग गुरु बाबा रामदेव जल्द ही चीन की एक फर्म कंपनी के साथ समझौता करने जा रही है.

यह हैं पूरा मामला

पतंजलि चीन की एक फार्म हाउस से समझौता करने वाले हैं. इस समझौता के बात चीन की सरकार भारत में रिसर्च, योग, कल्चरल प्रोग्राम, एजुकेशन, आईटी जैसे कई क्षेत्रों में अपना सहयोग करने की बात कही है. वहीं इस समझौते पर बाबा रामदेव ने कहा की इससे दोनों देशों के बीच अच्छे रिश्ते बनेंगे, साथ ही भारत और चीन के बीच ट्रेड भी बढ़ेगा.

SHARE