कांग्रेस की लहर देख पलटी मार गया रामदेव, दिया मोदी विरोधी बयान, पढ़ें

देश के जाने-माने बिजनेसमैन बाबा रामदेव बीजेपी के करीबी माने जाते हैं और माने भी क्यों ना जाए बीजेपी और रामदेव ने एक साथ मिलकर ही देश को मूर्ख बनाया है। जहां मोदी सरकार देश के विकास के नाम पर लोगों से धोखा करती आई है। वही बाबा रामदेव स्वदेशी उत्पादों के नाम पर जनता को मूर्ख बनाते रहे हैं।

1. बीजेपी की जी हज़ूरी करते हैं बाबा रामदेव

गौरतलब है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बाबा रामदेव को एक साथ कई कार्यक्रमों में मंच साझा करते हुए देखा गया हैं। बाबा रामदेव इन 4 सालों में बीजेपी की गलतियों पर भी पर्दा डालते नजर आए हैं। साल 2014 में बीजेपी की गवाही भरने वाले बाबा रामदेव देश की बेहाल स्थिति पर अब लोगों को तरह-तरह के बहाने बताने में लगे हैं।

2. भारत की गिर रही अर्थव्यवस्था पर बाबा रामदेव ने कही बड़ी बात

अब खबर सामने आई है कि बाबा रामदेव ने देश की लगातार गिर रही अर्थव्यवस्था पर भी एक बड़ा बयान दिया है। ग्लोबल मार्केट में रुपए की लगातार गिर रही कीमत पर बाबा रामदेव ने कहा है कि सिर्फ रुपया ही नहीं गिर रहा बल्कि देश की साख भी गिर रही है।

3. कहा- रुपए के साथ देश की साख भी गिर रही

बाबा रामदेव जी यह बयान आजतक के कार्यक्रम में हल्ला बोल के दौरान दिया है। आपको बता दें कि बाबा रामदेव ने देश की गिर रही अर्थव्यवस्था का जिम्मेदार विदेशी कंपनियों को ठहराया है। उनका कहना है कि विदेशी कम्पनिया भारत से पैसा कमाकर अपने देश ले जा रही हैं।

4. देश के नागरिकों को दी नया भारत बनाने की सलाह

आजतक के हल्ला बोल कार्यक्रम में पहुंचे बाबा रामदेव ने देश के नागरिकों को यह सलाह दी है कि देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए हर नागरिक चाहे, वह किसान हो, जवान हो या फिर कोई बिजनेस मैन अगर मेहनत करें तो एक नया भारत बन सकता है। जिस की अर्थव्यवस्था भी मजबूत हो।

5. यही हाल रहा तो देश के हालात होंगे बदतर

बाबा रामदेव का कहना है कि जिस वक्त भारत आजाद हुआ था। उस समय रुपए और डॉलर की कीमत एक बराबर थी। लेकिन अपने देश का पैसा अपने देश में ही नहीं रह रहा। इसलिए भारत का इतना बुरा हाल हो गया है। आज डॉलर के सामने रुपए की कीमत 70 हो गई है अगर यही हाल रहा तो हमें 80 रूपये देकर डॉलर खरीदना पड़ेगा।

आपको बता दें कि मोदी सरकार के राज देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो चुकी है।