पत्रकार ने किया भाजपा नेता से ये सवाल, भाजपा नेता ने दी नौकरी से निकलने की धमकी, पढ़ें पूरी खबर

चुनाव आयोग ने गुजरात से बीजेपी विधायक मधु श्रीवास्तव को नोटिस जारी किया है। उन पर आरोप है कि उन्होंने वडोदरा में खुलेआम मतदाताओं को धमकाया था। बताया जाता है कि शनिवार को एक चुनावी सभा के दौरान उन्होंने कहा था कि, “जिन लोगों ने बीजेपी को वोट नहीं दिया, उन्हें मैं खत्म कर दूंगा।”

इस मामले की शिकायत कांग्रेस ने चुनाव अधिकारी से की थी। इस शिकायत के आधार पर वडोदरा जिला चुनाव अधिकारी शालिनी अग्रवाल ने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया है और दो दिन के अंदर जवाब देने का निर्देश दिया है।

निर्वाचन आयोग का नोटिस मिलते ही मधु श्रीवास्तव के सुर अब बदलने लगे हैं। इस बारे में उन्होंने पत्रकारों से कहा कि वे लोगों के पास सेवक बन कर आए हैं। उन्होंने कहा कि वह लोगों से विनम्रतापूर्वक निवेदन करते हैं कि जनता बीजेपी कार्यकाल में हुए विकास कार्य देखें। फिर वोट करे।

हालांकि इससे पहले जब मीडिया चुनाव आयोग के नोटिस पर उनसे बात करने पहुंचा था उन्होंने धमकी दी थी और नौकरी से निकलवाने के साथ ही पूरे गुजरात में केबल कटवाने की भी बात की थी।

गौरतलब है कि बीजेपी विधायक मधु श्रीवास्तव पहले भी अपने बयानों को लेकर को विवादों में रहे हैं। लेकिन गुजरात बीजेपी ने इस बयान पर उनका बचाव किया। गुजरात बीजेपी अध्यक्ष जीतू वघानी और वडोदरा बीजेपी अध्यक्ष भूपेंद्र लखावला ने कहा है कि किसी ने श्रीवास्तव के भाषण वाली वीडियो क्लिप के साथ छेड़छाड़ की है। दावा किया कि उसमें नकली भाषण दिखाया गया है और वे बातें बीजेपी विधायक ने कहीं ही नहीं।

SHARE