सट्टा बाज़ार ने पलटी खायी, कांग्रेस का हाथ छोड़ बीजेपी के साथ आया – देखें

मतदान के बाद सूबे की आम आवाम को 11 तारीख को होने वाली मतगणना का इंतज़ार है. वहीं चोरी छुपे कुछ लोग सट्टा बाज़ार पर भी निगाहें जमाए हैं. कल तक कांग्रेस को जीत दिला रहा सट्टा बाज़ार शुक्रवार को पलटी मार गया. आज परिवर्तन के भाव चले. इसमें 110-115 बीजेपी और कांग्रेस को 100-105 सीट का दावा चलता रहा.

सट्टा बाज़ार में इंदौर के प्रत्याशियों के ये भाव चल रहे हैं, इंदौर विधानसभा 1– 70/80 संजय शुक्ला, इंदौर विधानसभा 3– 27/30 आकाश विजयवर्गीय, इंदौर विधानसभा 5– 50/55 महेंद्र हार्डिया, विधानसभा महू— 35/40 अंतर सिंह दरबार, विधानसभा राऊ 40/ 50 जीतू पटवारी, विधानसभा सांवेर– 35/45 तुलसी सिलावट, विधानसभा देपालपुर– 25/35 विशाल पटेल

मज़ेदार बात ये है कि इंदौर विधानसभा 02- और 04 के नाम पर सट्टा नहीं लग रहा. यानि सट्टा बाज़ार में रमेश मेंदोला और मालिनी गौड़ की जीत तय है.

बुधवार को मतदान के बाद गुरुवार सुबह से सट्टा बाज़ार ने कांग्रेस को बढ़त बतायी थी. उसे जीत का भाव दिया था. उस दिन सट्टा बाज़ार बीजेपी को 96/98 सीट और कांग्रेस को 120/122 सीटें दे रहा था.लेकिन शुक्रवार सुबह सट्टा बाजार अचानक से बदल गया. और अब वो बीजेपी को 110 से 115 और कांग्रेस को 100-105 सीट बता रहा है.

लेकिन सट्टा बाज़ार का ये गुणा-भाग खुद प्रत्याशी ही नहीं मान रहे. उनका कहना है उनके इलाके की आम जनता के चेहरे की मुस्कान और आशीर्वाद से जीत का भरोसा होता है. सट्टा बाज़ार तो खुद ही अवैध है.

SHARE