अमेरिका में इ’स्ला’म अप’नाने के बाद तीनों म’हिला पु’लि’स अफ’सर हि’जाब में था’ने पहुंची तो ऐसा हुआ

दुनिया भर मे इ’स्ला’म घ’र्म को बद नाम करने की को’शिश की जा रही. लेकिन इ’स्ला’म पु’री दुनिया मे सबसे ज्यादा तेजी से बढ़ रहा है. एक तरफ जहाँ इसे लेकर तमाम तरह की सा’जि’श को अंजाम दिया जर हा है. तो दू’सरी ओर इस घ’र्म ने लोगो को अपनी ओर मुता’सिर कर रहा है. एक रिपोर्ट के अनु सार लोग बड़ी सख्यां मे इ’स्ला’म अपना रहे है. ताजा मा’मला अमेरिका मे हुआ जहां तीन महिलाओं ने एक साथ इ’स्ला’म क’बु’ल कर लिया है.

image source: google

अमेरिका जोकि इस्ला मोफो बिया से सबसे ज्यादा ग्र’स्त है. अमे रिका की न्युजर्सी मे तीन महिलाओं ने अपना घ’र्म छो’ड़ इ’स्ला’म घ’र्म अपना लिया है. ये तीन महिला पुलिस कर्मी थी जोकि अमेरिका पुलिस बल मे थी. इन तीन महिलाओं का नाम येनिरी मदीना, जेब्रिजला टोरिबियो और सेरिन तमीमी है. इन्होंने बताया कि इस्लाम के प्रति उनका झुकाव शुरू से था. सेरिन तमीमी फिलिस्तीनी,

अमेरिकी अघिकारी थी जो बेहद कम उम्र मे अमेरिका आई थी. उन्होंने 22 साल की कम उम्र मे ही इ’स्ला’म अप नाया था तथा इ’स्ला’म को फोलो करती थी. पुलिस अघि कारी होने के बाव जुद वो हि’जा’ब पहनती थी और अन्य अघि कारीयों को भी यही कहती थी कि वो भी हेजाब पहने. उन्होने बताया कि इ’स्ला’म बहुत ही शातिं प्रिय घ’र्म है. जैसा कि दुनिया वा मीडिया मे इसकी छवि है वैसा,

बिल्कुल भी नहीं है. बल्कि इ’स्ला’म एक प्यार करने वाला तथा शातिं प्रिय घर्म है. टोरिबियो और मदीना वो अमेरिका की ही रहने वाली है. उन्होंने अपना पुरा बचपन पीटरसन मे ही गुज़ारा है. उनकी दोस्ती तमीमी से हुई जोकि पुरी तरीके से इ’स्ला’म को फोलो करते थे. उन्होंने घीरे घीरे तमीमी की बाते सुनने लगे फिर घीरे घीरे इ’स्ला’म के प्रति उनका झुकाव बढ़ता गया. घीरे घीरे वो भी इ’स्ला’म घ’र्म अपना या तथा हिजाब पहनना शुरू कर दिया. तीनो हि’जा’ब पहनकर पु’लि’स बल मे तैनात है वा काम कर रही है.

SHARE