पीएम की एक बात से ना’राज़ हैं बरे’लवी उ’लेमा, मु’स्लिमों से जो’र जब’रदस्ती को लेकर कही बड़ी बात

बीते आजादी दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने लाला किले की प्राचीर से कई मुद्दों पर बात की . इस दौरान उन्होंने बढती जनसँख्या पर भी अपनी राय रखी. हालाँकि अब इस पर बरेली के उलेमाओं की तरफ से बड़ा बयान आया है. दरअसल इस मामले पर तब से ही लोग अपनी प्रतिक्रीया दे रहे हैं. हालाँकि इन सब के इतर रिपोर्ट बता रही है कि इस वक़्त जन सँख्या आजादी के बाद से सबसे ज्यादा कण्ट्रोल में है. लेकिन खैर,

image source: google

आपको बता दें कि भार तीय जनता पार्टी का इस पर हमेशा से एक स्टैंड रहा है और कुछ संगठन की तरफ से लगातार कहा जाता रहा है कि आने वाले कुछ सालो में यहाँ पर मु’स्लिम ज्यादा तादाद में हो जायेंगे और हि’न्दू कम लेकिन अगर आकड़ों के हिसाब से देखे तो यह दावा पूरी तरह से गलत है. बहरहाल अब मौला’ना शहाबुद्दीन का एक बड़ा बयान आया है. यह तंजीम उलेमा ए इस्लाम के पदाधिकारी हैं.

उनका कहना है कि जब रन जन संख्या कंट्रो’ल करना सही नहीं है इ स्लाम की नज़र में. इसके अलावा उन्होंने इस तरह के बनने वाले किसी भी तरह के कानून को गलत बताया है. हालाँकि उनका यह कहना है कि अगर लोग अपनी इच्छा से जन संख्या कण्ट्रोल करने तो यह शरि यतन जायज है. वहीँ अपने बयान में उन्होंने कहा है कि लगातार शरि यत में हस्तक्षेप करने की कोशिश की जा रही है जोकि सही नहीं है.

उनका कहना है कि आज हमारा देश आज़ाद है और यहाँ पर सभी को अपने मज़ हब का पालन करने का पूरा अधि’कार है. उनका कहना है कि अगर लोग खुद अपनी मर्ज़ी से ऐसा करते हैं और एहतियात करते हैं तो इसमें कोई बुराई नहीं है. बहरहाल, उनके इस बयान पर लोग अलग अलग प्रति क्रिया दे रहे हैं.

 

SHARE