फैजाबाद का नाम बदल कर मुख्यमंत्री ने कर डाली इतनी बड़ी गलती, जिसे माफ़ नहीं किया जा सकता!

यूपी की सत्ता में आने से पहले भा जपा ने कई बड़े बड़े वादे किये थे और जनता को अच्छे दिनों का सपना खूब दिखाया था. हालाँकि इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि अब इतने तक सत्ता में रहने के बावजूद फिलहाल पार्टी ने अपने द्वारा किया गया वह दावा पूरा नहीं किया है और फिलहाल वह तमाम मोर्चों पर पूरी तरह से फेल नज़र आ रही है.

हालाँकि एक चीज़ है जिसका वादा तो नहीं किया गया गया था लेकिन उसका अंदेशा तो ज़रूर ही था. यूपी के सीएम योगी अब उन्हें पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. हालाँकि यह बात और है कि यह कोई विकास वाला वादा नहीं है.

बल्कि इसके ज़रिये एक तरफ जहाँ वह अपनी कुंठा निकाल रहे हैं तो दूसरी तरफ वह अपनी पार्टी के एजेंडे को आगे बढ़ा रहे हैं लेकिन इन सब के बीच फिलहाल आं जनता को इसका कोई फायदा होता नहीं दिख रहा है. फिलहाल उन पर आज कल नाम बदलने का चस्का चढ़ा हुआ है. इससे पहले वह मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय कर चुके हैं. इसके अलावा हाल ही में उन्होंने इलाहाबद का नाम बदलकर प्रयागराज रखा है. हालाँकि उनके फैसलों पर देश भर से अलग अलग प्रतिक्रिया सामने आ रही है.

इस बीच अब बीते कल उन्होंने ऐलान किया है फैजाबाद का नाम बदलने का. दरअसल बीते कल उन्होंने फैसला किया है कि अब फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या रखा जाएगा. लेकिन हम आपको बता दें कि जिस दौरान वह ऐलान कर रहे थे, उसमे उन्होंने एक बड़ी गलती कर दी है. दरअसल वहां के बाशिंदे अयोध्या को महज़ अयोध्या कहकर नहीं पुकारते हैं, बल्कि उसे अयोध्या जी या फिर या अजुध्या जी कर कह बुलाया जाता है. लेकिन उन्होंने सिर्फ अयोध्या बोलकर एक तरह से इसका अप मान किया है.

SHARE